एयरलाइन की लापरवाही बनी काल: फ्लाइट में 28 साल के यात्री की मौत, कतर एयरलाइंस को लीगल नोटिस; जरूरी जानकारी और मुवक्किल के लिए हर्जाने की मांग की, जवाब न देने पर कानूनी कार्यवाही की चेतावनी

0
11


  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • 28 year old Passenger Dies In Flight, Legal Notice Sent To Qatar Airlines; Demanded For Necessary Information And Damages For The Client, Warning Of Legal Action For Not Responding.

चंडीगढ़16 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

एंबेसी के अधिकारियों की तरफ से परिवार को बताया गया कि जिस वक्त एयरलाइंस ने शव दिया, उस समय एअरलाइंस द्वारा लापरवाही दिखाते हुए यात्री का कोई भी लगेज और दस्तावेज नहीं सौंपे गए।

डेनमार्क से अमृतसर आते हुए 28 साल के अभिषेक सरना की कतर एयरलाइंस की फ्लाइट नंबर QR162 में मौत के मामले में एडवोकेट उज्जवल भसीन ने कतर एयरलाइंस को लीगल नोटिस भेजा है। नोटिस में जरूरी जानकारी और मुवक्किल के लिए हर्जाने की मांग की गई है। नोटिस का जवाब न देने पर एयरलाइंस के खिलाफ कानूनी कार्यवाही शुरू करने की चेतावनी दी गई है।

भसीन का कहना है कि कतर एयरलाइंस की फ्लाइट में एयर इमरजेंसी के दौरान क्रू मेंबर्स ने भारी लापरवाही दिखाते हुए तत्काल इस्तांबुल एयरपोर्ट पर फ्लाइट को न रोकते हुए 2 घंटे का सफर तय किया। क्रू मेंबर ने यात्री के जीवन को खतरे में डाल दिया। एयरलाइंस की लापरवाही इस हद तक बढ़ गई कि उन्होंने यात्री के परिवार से संपर्क करना भी जरूरी नहीं समझा और शव को एंबेसी के हवाले कर दिया।

एंबेसी के अधिकारियों की तरफ से परिवार को बताया गया कि जिस वक्त एयरलाइंस ने शव दिया, उस समय एयरलाइंस द्वारा लापरवाही दिखाते हुए यात्री का कोई भी लगेज और दस्तावेज नहीं सौंपे गए। उनके मुवक्किल के बेटे अभिषेक सरना का कीमती जीवन बच जाता, अगर कतर एयरवेज के कर्मचारियों द्वारा लापरवाही न दिखाई गई होती। इसलिए एयरलाइंस मेरे मुवक्किल की क्षतिपूर्ति करने के लिए उत्तरदायी है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here