एनसीआरटीसी के निर्माण स्थल पर निर्देशों का उल्लंघन, 50 लाख का जुर्माना लगाने का आदेश…पर्यावरण मंत्री ने अलग-अलग निर्माण और डिमॉलिशन साइट का किया निरीक्षण

0
1


  • Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • Violation Of Instructions At Construction Site Of NCRTC, Order For Imposition Of Fine Of 50 Lakh … Environment Minister Inspects Different Construction And Demolition Site

नई दिल्ली35 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • सीएम बुधवार को बॉयो डी-कंपोजर घोल के छिड़काव की शुरुआत करेंगे

एनसीआरटीसी के विकास सदन के नजदीक निर्माण कार्य स्थल पर डस्ट रोकने के प्रावधानों का उल्लंघन पाया गया है। इस मामले में पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने दिल्ली पॉल्यूशन कंट्रोल कमेटी (डीपीसीसी) को 50 लाख रुपए का जुर्माना लगाने के आदेश दिए गए है। रविवार को पर्यावरण मंत्री ने अलग-अलग निर्माण और डिमॉलिशन साइट का निरीक्षण किया।

इसमें मंत्री ने एनसीआरटीसी, विकास सदन, जीपीआरए कॉलोनी, नौरोजी नगर समेत अन्य जगह का निरीक्षण किया। एनसीआरटीसी के निर्माण स्थल पर प्रदूषण रोकने के दिशा निर्देशों का उल्लंघन पाया गया। मंत्री ने डीपीसीसी को 50 लाख रुपए का जुर्माना लगाने के निर्देश दिए है। साथ ही उन्होंने निर्माण स्थल पर धूल को उड़ने से रोकने के लिए जारी दिशा निर्देशों का सख्ती से पालन करने का कहा।

प्रदूषण रोकने के निर्देशों का सभी को करना होगा पालन

मंत्री ने कहा कि दिल्ली सरकार ने एंटी डस्ट अभियान शुरू किया है। इसके तहत दिल्ली के अंदर चल रहे सभी छोटे-बड़े निर्माण साइट्स के लिए विस्तृत दिशा निर्देश जारी किए गए है, जिसे सभी को पालन करना आवश्यक है और उल्लंघन करने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। मंत्री ने जीपीआरए सेवा सदन, नेताजी नगर और आईटीडी सीईएम, कस्तूरबा नगर में चल रहे डिमॉलिशन कार्य का भी निरीक्षण किया। जीपीआरए सेवा सदन, नेताजी नगर साइट पर एक ही एंटी स्मॉग गन लगाए गए हैं। वहां एक और एंटी स्मॉग गन लगाने के निर्देश दिए गए। दूसरी एंटी स्मॉग गन को लगाए जाने तक और साथ ही पूर्व में लगाए गए 5 लाख रुपए के जुर्माना को जमा किए बिना काम नहीं शुरू करने का निर्देश दिया गया।

1500 एकड़ जमीन पर बॉयो डी-कंपोजर छिड़काव के लिए किसानों की तरफ से आवेदन

राय ने बताया कि दिल्ली के अंदर पराली जलने से रोकने के लिए खेतों में पराली के डंठल पर डी-कंपोजर घोल का छिड़काव किया जाएगा। इससे डंठल गल कर खेत में ही खाद बन जाएगा। इसका घोल दिल्ली सरकार ने पूसा इंस्टीट्यूट के साथ तैयार किया है। बुधवार को गालिबपुर गांव मटियाला विधानसभा में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल खोल के छिड़काव की शुरुआत करेंगे। राय ने बताया कि अभी तक 1500 एकड़ जमीन पर बॉयो डी-कंपोजर छिड़काव के लिए किसानों की तरफ से आवेदन मिले है।



Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here