इस साल सर्दियों में महंगी पड़ेगी गुड़ का मिठास, कीमतों में आ रही तेजी, चेक करें लेटेस्ट भाव

0
2


सर्दियों के मौसम में गुड़ खाने से शरीर का तापमान सामान्य बना रहता है. इससे भरपूर आयरन मिलने से ब्लड में ऑक्सीजन ठीक तरह से बनती है. यह प्रदूषण से बचाने में मददगार है.

सर्दियां आएं और गुड़ की बात न हो ऐसा तो संभव ही नहीं है…लेकिन इस बार गुड़ की मिठास कुछ महंगी हो सकती है. बता दें इस बार बाजार में गुड़ (Jaggery) की आवक तो है, लेकिन डिमांड ज्यादा होने की वजह से ग्राहकों को इस साल गुड़ की मिठास लेना महंगा पड़ सकता है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    December 24, 2020, 7:27 PM IST

नई दिल्ली: सर्दियां आएं और गुड़ की बात न हो ऐसा तो संभव ही नहीं है…लेकिन इस बार गुड़ की मिठास कुछ महंगी हो सकती है. बता दें इस बार बाजार में गुड़ (Jaggery) की आवक तो है, लेकिन डिमांड ज्यादा होने की वजह से ग्राहकों को इस साल गुड़ की मिठास लेना महंगा पड़ सकता है. मकर संक्राति तक इसकी डिमांड में तेजी देखने को मिल सकती है. जनवरी महीने में गुड़ का वायदा भाव 1150 रुपए के लेवल को छू सकती है.

1115 रुपए चल रहा भाव
इस समय नेशनल कमोडिटी एंड डेरिवेटिव एक्सचेंज लिमिटेड (NCDEX) पर जनवरी का वायदा भाव इस समय 1115 चल रहा है.

यह भी पढ़ें: Alert! व्‍हीकल रजिस्ट्रेशन से जुड़े इस काम के लिए बचा है सिर्फ 1 दिन, करा लें कंप्‍लीट वरना…15 दिसंबर से शुरू हुई ट्रेडिंग

NCDEX पर गुड़ की फ्यूचर ट्रेडिंग 15 दिसंबर के आसपास शुरू हो जाती है. 15 दिसंबर को यह करीब 1062 रुपए के लेवल पर ओपन हुआ था. एनसीडेक्स पर ट्रेड होने वाले गुड़ का बेस वैल्यू 40 किग्रा के आधार पर तय होता है. वहीं, मकर संक्राति तक ये भाव और भी बढ़ सकता है.

पिछले साल के मुकाबले बढ़ा है भाव
आपको बता दें, पिछले साल के मुकाबले इस साल गुड़ का भाव 250-300 रुपए (Jaggery latest price) ज्यादा है. मतलब फुटकर बाजार में भी गुड़ (Gud ka bhav) महंगा मिलेगा. गुड़ की सबसे बड़ी खेप पश्चिमी उत्तर प्रदेश (Western Uttar pradesh) में मिलती है. क्योंकि, यहां कोल्हुओं (Jaggery Crushers) की संख्या काफी ज्यादा है. मंडियों को बजाए सीधे कोल्हुओं से व्यापार होता है.

भारत में होता है सबसे ज्यादा गुड़ का उत्पादन

दुनियाभर में सबसे ज्यादा गुड़ का उत्पादन भारत में होता है. इंडिया में करीब 60 फीसदी का गुड़ का प्रोडक्शन होता है. हालांकि निर्यात के मामले में ब्राजील सबसे आगे है. इसके अलावा आयात के मामले में सबसे आगे यूएसए, चीन व इंडोनेशिया है.

यह भी पढ़ें: सस्‍ते में घर खरीदने का एक और मौका! SBI के बाद अब PNB भी बेच रहा 3681 मकान, 29 दिसंबर को है नीलामी, चेक करें डिटेल

यूपी में होता है सबसे ज्यादा प्रोडक्शन
भारत के उत्तर प्रदेश में गुड़ का उत्पादन सबसे ज्यादा होता है. देश का 80 फीसदी गुड़ उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक और तमिल नाडु में तैयार किया जाता है. उत्तर प्रदेश में देश का 47 फीसदी, महाराष्ट्र में 21 फीसदी, कर्नाटक में 8 फीसदी और तमिलनाडु में 5 फीसदी गुड़ तैयार होता है. भारत से गुड़ श्रीलंका, नेपाल, इंडोनेशिया को निर्यात होता है.





Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here