Advertisement

इस बार हम दिवाली पर खर्च करेंगे 1.3 लाख करोड़ रुपए, अनलॉक के बाद सबसे बड़ा फेस्टिव सीजन शुरू


  • Hindi News
  • National
  • This Time We Will Spend 1.3 Lakh Crores On Diwali, The Biggest Festive Season Starts After Unlock

नई दिल्ली2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

फाइल फोटो

  • 1 लाख करोड़ रुपए का घरेलू सामान, वाहन और सोना बिकेगा
  • 30 हजार करोड़ रुपए घर और जमीन खरीदी पर खर्च होंगे

(अनिरुद्ध शर्मा) कोरोना काल की मंदी के बाद बाजारों में रौनक लौट रही है। खरीदार आने लगे हैं। बाजार में कारोबार कोरोना के पहले की तुलना में 60 फीसदी तक पहुंच चुका है। दीपावली तक स्थिति और बेहतर हाे जाएगी। कंफडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) का अनुमान है कि लोगों ने पिछले सात महीनों में खर्चों में भारी कटौती की, नतीजतन देश में आम लोगों के पास करीब डेढ़ लाख करोड़ रुपए की बचत है।

नवरात्र से दीपावली तक एक महीने में 1 लाख करोड़ रुपए की खरीदी होगी। इसमें वाहन, सोना और घरेलू सामान शामिल हैं। वहीं विशेषज्ञों के अनुसार रियल इस्टेट में भी करीब 30 हजार करोड़ रुपए की खरीदी होगी। कैट का अनुमान है कि अब से 31 मार्च, 2021 तक बाजार में 2 लाख करोड़ रुपए की चाल आएगी। कैट के अध्यक्ष बीसी भरतिया कहते हैं कि बीते सात महीनों में लोगों ने बेहद जरूरी चीजों की ही खरीदारी की लेकिन दीपावली जैसे बड़े त्यौहार पर लोग खर्च करेंगे। दीपावली की मांग को देखते हुए पिछले दो महीने से ही फैक्टरियों में दो-दो शिफ्ट में उत्पादन कार्य चल रहा है।

इलेक्ट्राॅनिक : लोग घरों में हैं इसलिए मांग बढ़ी

ऑल इंडिया इलेक्ट्रॉनिक्स एसोसिएशन के अध्यक्ष मितेश मोदी कहते हैं कि दीपावली में इस बार पिछले साल की तुलना में टीवी, टैब, मोबाइल सरीखे आइटम में 20 से 30 फीसदी तक ज्यादा बिक्री की संभावना है। कोरोना के खत्म न होने के चलते लोगों को लग रहा है कि अभी आने वाले महीनों में भी उन्हें घर में ही मनोरंजन के साधनों के साथ रहना होगा तो वे बड़ा टीवी लेने पर खर्चा करना चाहेंगे।

कपड़े : अब त्योहार पर बिक्री अच्छी रहेगी

वी मार्ट के सीएमडी ललित अग्रवाल ने बताया कि तमाम संकट के बावजूद पिछली दीपावली की तुलना में इस बार कपड़ों की बिक्री 80-90 फीसदी तक रहेगी। दीपावली की खरीदारी पर गांवों के सेंटिमेंट्स का खासा असर रहता है और इस बार किसानों की फसल पर अच्छी आमदनी हुई है, इसका असर शहरों की खरीदारी पर नजर आएगा। सरकार हाल में एलटीसी वाउचर स्कीम लेकर आई है, इसका असर भी रहेगा।

सोना : पिछले साल के मुकाबले 80% व्यवसाय

इंडियन बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन के एसके जिंदल व पृथ्वीराज कोठारी ने कहा कि दीपावली पर सर्राफा बाजार में भारी उत्साह रहेगा। हो सकता है कि वजन में सोना पिछले साल दीपावली की तुलना में इस बार 70-80% ही खरीदा जाए लेकिन मूल्य में यह खरीदारी पिछले साल की दीपावली के कमोबेश बराबर ही रहने के अनुमान है। लोग ज्यादा जेवर न बनवाकर बार व बिस्किट के रूप में ही सोना खरीदेंगे।

ऑनलाइन भी दोगुना खर्च कर सकते हैं

फ्लिपकार्ट, अमेजॉन, स्नैपडील जैसी ई-कॉमर्स साइट्स पर सालाना फेस्टिवल सेल शुरू है। कंसल्टेंसी एजेंसी रेडशीर की सितंबर में आई रिपोर्ट के मुताबिक 2020 के दीपावली के मौके पर करीब 51 हजार करोड़ रु. से अधिक की खरीदारी होगी, जो 2019 में दीपावली पर हुई खरीदारी से दो गुना ज्यादा होगी।



Source link

Advertisement
sabhijankari:
Advertisement