अयोध्या भूमि सौदे में भ्रष्टाचार का आरोप लगाने वाले को विहिप की चुनौती, अगर सुबूत है तो कोर्ट का दरवाजा खटखटाएं

0
5


नई दिल्ली. विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) ने शनिवार को कहा कि अयोध्या में राम मंदिर ट्रस्ट पर भूमि सौदे को लेकर भ्रष्टाचार का आरोप लगाने वालों के पास अपने दावों को लेकर अगर साक्ष्य है, तो उन्हें अदालत जाना चाहिए. बता दें कि आम आदमी पार्टी (AAP) के नेता संजय सिंह और समाजवादी पार्टी के एक पूर्व विधायक पवन पांडे ने हाल ही में आरोप लगाया था कि अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने 2 करोड़ रुपये मूल्य के भूखंड को 18.5 करोड़ रुपये की बढ़ी हुई कीमत पर खरीदा है.

आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए विहिप के संयुक्त महासचिव सुरेन्द्र जैन ने कहा कि श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने भूमि का सौदा ‘पूरी ईमानदारी और पारदर्शिता’ के साथ किया. उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘इसमें कोई घोटाला नहीं है. अगर इसमें कोई गलत बात है, तब वे अदालत क्यों नहीं जाते हैं? अगर उनके पास कोई साक्ष्य है, तब उन्हें अदालत जाना चाहिए.’

राम मंदिर को लेकर बैठक में पीएम मोदी ने कहा- अयोध्‍या ऐसी हो जहां भारत की संस्‍कृति की झलक दिखे

इस सौदे की जांच की मांग करने वाले आम आदमी पार्टी, समाजवादी पार्टी, कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए विहिप के संयुक्त महासचिव जैन ने कहा कि वे किस बात का इंतजार कर रहे हैं. अब तक वे अदालत क्यों नहीं गए ? उन्होंने कहा, ‘उन्हें ऐसा करना चाहिए. सच्चाई सबके सामने आनी चाहिए.’

वहीं, आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने पिछले सप्ताह मीडिया से कहा था कि वे इस मामले को अदालत के समक्ष ले जाने की तैयारी कर रहे हैं. इससे पहले, श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए दावा किया था कि भूमि की खरीद वर्तमान बाजार भाव से कम कीमत पर हुई.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here